मानसिक रूप ले कमजोर लइका मनके हस्तसिल्प प्रदर्सनी म पहुंचिस महिला बाल विकास मंत्री

अंजोर.रायपुर। महिला बाल विकास विभाग अउ छत्तीसगढ़ राज्य बाल कल्याण परिषद् कोति ले पाछू दिन महंत घासीदास संग्रहालय म मानसिक रूप ले नि:शक्त लइका मनके बनाये हस्तशिल्प के प्रदर्शनी के आयोजन करे गे रिहिस हाबे। प्रदर्शनी के उद्घाटन राज के महिला अउ बाल विकास मंत्री सिरीमति रमशीला साहू ह करिस हवय। ये मउका म ओमन किहिन के प्रदर्शनी के सबो जिनिस गजब सुघ्घर हावय। येला देख के कोनो नइ केहे सके के येला मानसिक रूप ले कमजोर लइका मन बनाये हवय। उकर कला प्रतिभा के बड़ई करत किहिन के ओकर हाथ म जादू हावय। ये लइका मनके बीच आके मै अपन आप ल भागमानी मानत हाववं।
कार्यक्रम म सबले आगू बाल जीवन ज्योति बाल गृह के नोनी सकीना ह अपन मीठ बोली म स्वागत गीत प्रस्तुत करिस, तेकर पाछू आकांक्षा के छात्र अक्षय गोयल 'जैसे सूरज की गर्मी में जलते हुए तन को मिल जाए तरूवर की छायाÓ गीत प्रस्तुत करिस।  
प्रदर्शनी म गुलदस्ता, कपड़ा के कलात्मक बैग, फूल, कलात्मक दीया-बाती अउ सुंदर-सुंदर राखी के संगे-संग अऊ केऊ कीसम के सजावट के समान बनाय रिहिन हाबे। उहां ले लोगन मन बिसा के लेगत घलोक रिहिन हाबे। 
ये प्रदर्शनी म माना के बाल जीवन ज्योति बाल गृह (बालिका), बालगृह (बालक), शासकीय बहु विकलांग गृह अउ मानसिक विकलांग गृह के सगें-संग राजधानी रायपुर के आदर्श दीप अक्षमता पुनर्वास केन्द्र, संवेदना, आकांक्षा लायंस क्लब अउ सृष्टि विशेष विद्यालय के लइका मनके बनाये समान ल रखे गे रिहिस हाबे।